उद्धव ठाकरे ने किया 10 रुपये में खाने और बिजली में छूट का वादा




मुंबई
महाराष्ट्र विधानसभा के चुनावी माहौल में हुई शिवसेना की दशहरा रैली में शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे  ने राम मंदिर से लेकर 370 तक पर खूब दहाड़ लगाई। बीजेपी के साथ सीट बंटवारे पर भी उन्होंने सफाई दी। लगे हाथ ठाकरे ने चुनावी घोषणा पत्र के कुछ वादे भी कर डाले। ठाकरे ने 10 रुपये में भरपेट खाना और 300 यूनिट तक बिजली का उपयोग करनेवालों के बिलों में 30 प्रतिशत छूट देने वादा किया। इसके अलावा एक समृद्ध महाराष्ट्र बनाने के लिए गांवों में वन रुपी स्वास्थ्य केंद्रशुरू करने का वादा भी किया। दशहरा रैली में शिवसेना ने जबरदस्त शक्ति प्रदर्शन किया। शिवाजी पार्क पर आयोजित रैली में राज्यभर से बड़ी संख्या में शिवसैनिक आए। इस मौके पर उद्धव ठाकरे ने दिवंगत बालासाहेब ठाकरे को याद करते हुए एक बार फिर विधानसभा पर भगवा लहराने की अपील की। ठाकरे ने कहा कि आज पहली विजयादशमी है और 24 तारीख को चुनाव परिणाम निकलने पर दूसरी होगी।

उद्धव ने राम मंदिर का मुद्दा छेड़ते हुए मोदी सरकार से अपील की कि अगर विशेष कानून बनाना पड़े, तो बनाएं, लेकिन राम मंदिर का निर्माण करे। हम इस मांग पर कायम हैं कि अयोध्या में भगवान राम का भव्य व विशाल मंदिर बने। सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर बनाने का फैसला दिया, तो ठीक है, वरना विशेष कानून बनाकर राम मंदिर बनाने की मांग पर शिवसेना अडिग है।

नहीं झुकी शिवसेना
बीजेपी के साथ गठबंधन और सीट बंटवारे पर उद्धव ने कहा कि अगर किसी को लगता है कि महायुति के लिए शिवसेना झुकी है, तो ऐसा बिल्कुल नहीं है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता चंद्रकांत पाटील ने विनती की थी कि हमारी परेशानी समझें। जो लोग सीट बंटवारे को लेकर टिप्पणी कर रहे हैं, उनसे मेरा सवाल है कि अगर बीजेपी को समर्थन नहीं दें, तो किसे दें? क्या 370 हटाने का विरोध करने वाली कांग्रेस को समर्थन दें? राज्य में बीजेपी और शिवसेन युति जनता ने स्वीकार किया है।

बदले की राजनीति मंजूर नहीं
उद्धव ने कहा कि बदले की राजनीति जो भी करेगा, उसे माफ नहीं करूंगा। ठाकरे ने याद दिलाया कि वर्ष 2000 में क्या हुआ था? बालासाहेब ठाकरे को गिरफ्तार करने का दबाव बनाया था। क्या उस वक्त बदले की राजनीति नहीं हो रही थी?

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट