पुलिस ने खंगाले CCTV फुटेज, ऑटो रिक्शा में पड़ा मिला गहनों से भरा बैग

पुणे। दिवाली के अगले दिन सोमवार को पुणे में एक दंपति का तीन लाख रुपये की कीमत वाले गहनों से भरा बैग गुम हो गया और उन्होंने गहने गुम होने की रिपोर्ट दर्ज कराई. गहने के गायब होने से दंपति बेहद निराश था और दोनों उदास मन से पुणे के बंडगार्डन पुलिस स्टेशन पहुंचे और रिपोर्ट दर्ज करवाई. हालांकि पुलिस ने कुछ ही देर में गहनों से भरा बैग बरामद कर लिया और दंपति को सौंप भी दिया. सोमवार को दोपहर पुणे के बंडगार्डन पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाने वाले जागृति रवींद्र येलदी (उम्र 26) ने बताया कि मुंबई से पुणे उसके पति रवींद्र येलदी के साथ तकरीबन दोपहर 11:30 पहुंची और स्टेशन से ऑटोरिक्श्वा से पुणे के सेलिस्बरी पार्क स्थित घर गए. लेकिन जैसे ही दंपति घर में दाखिल हुए उन्हें याद आया कि गहनों से भरा बैग उनके पास है ही नहीं.
रिपोर्ट पर तलाशी शुरू
बैग नहीं मिलने पर दोनों ने तलाशी शुरू कर दी. हर जगह उसकी तलाश की, लेकिन उन्हें बैग नहीं मिला. आनन-फानन में दोनों बंडगार्डन पुलिस स्टेशन पहुंचे. रिपोर्ट दर्ज करवाने के दौरान पुलिस ने उन्हें आश्वासन दिया कि बैग को हरसंभव तलाश किया जाएगा. जांच के लिए वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुनील तांबे ने क्राइम डिविजन के पुलिस निरीक्षक दिगंबर शिंदे की अगुवाई में चार लोगों की टीम का गठन किया. उन्होंने हर जगह तलाशी शुरू कर दी. सहायक पुलिस निरीक्षक संदीप जगदाड़े और दो कर्मचारियों की मदद से पुलिस ने सड़क के दोनों छोर पर लगे 12 सीसीटीवी फुटेज खंगाले.
सीसीटीवी फुटेज से 6 आटो रिक्शा को ट्रेस किया गया. फिर इस 6 ऑटो रिक्शा के डिटेल्स निकालने के बाद एक ऑटो रिक्शा के मालिक की जानकारी निकाली गई.
ड्राइवर को पता ही नहीं चला
पुलिस रिपोर्ट में दर्ज कराए गए ऑटो रिक्शा की जानकारी जब मेल खाया तब उस रिक्शा मालिक से संपर्क किया गया. ऑटो रिक्शा चालक 55 उम्र के सिकंदर अब्दुल शेख से फोन पर संपर्क किया गया. सिकंदर को बुलाया गया तो पता चला के उसने इस दंपति को उनके घर छोड़ने के बाद और तीन से चार पैसेंजर्स को उनके मुकाम पर पहुंचाया था. ऑटो रिक्शा चालक के पुलिस स्टेशन पहुंचने पर पता चला कि गहनों से भरा बैग ऑटो रिक्शा के पीछे वाले हिस्से में पड़ा हुआ है. बैग मिलने से दंपति ने राहत की सांस ली और रिक्शा चालक को इनाम के तौर पर 500 रुपये दिए.

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट