डबल मर्डर केस की गुत्थी सुलझी, पोते के साले ने किया था कत्ल

राजस्थान के राजसमंद जिले में पुलिस ने सनसनीखेज डबल मर्डर की गुत्थी को सुलझाने का दावा किया है. पुलिस ने हत्या के आरोप में बुजुर्ग दंपति के रिश्तेदार को गिरफ्तार कर लिया है. दंपति के पोते के साले ने लूट के इरादे से दोनों की हत्या की. राजसमंद पुलिस ने 15 दिन पहले हुए एक बुजुर्ग दंपति की हत्या की गुत्थी सुलझाते  हुए कत्ल के आरोप में प्रतापगढ़ से दंपत्ति के ही एक दूर के रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है.
मोबाइल लोकेशन के आधार पर हुई गिरफ्तारी
गिरफ्तार व्यक्ति पर आरोप है कि उसने 15 दिन पूर्व बुजुर्ग दंपत्ति को मौत के घाट उतार दिया था. राजसमंद के खमनोर थाना क्षेत्र के बड़ा भाणुजा पंचायत के काढो का गुडा गांव में 15 दिन पहले एक नगदी और जेवरात लूट और बुजुर्ग दंपति को मौत के घाट उतारने की घटना सामने आई थी. पुलिस ने इस मामले की तफ्तीश मृतक दंपति के बेटे की शिकायत दर्ज होने के बाद शुरू की. पुलिस ने मामले की जांच के लिए 2 टीमों का गठन किया और शक के आधार पर मृतक दंपति के दूर के रिश्तेदार जो कि फरार चल रहा था, की तलाश शुरू कर दी थी. पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरोपी को प्रतापगढ़ से गिरफ्तार किया और उससे पूछताछ की तो उसने मृतक दंपति को मौत के घाट उतारने का गुनाह कबूल कर लिया.
योजना के तहत घर पर रुका आरोपी
इस घटना का खुलासा आज बुधवार को राजसमंद एसपी भुवन भूषण ने किया. उन्होंने बताया कि आरोपी पीड़ित परिवार का दूर का रिश्तेदार है. पुलिस के अनुसार, आरोपी षड्यंत्र के तहत एक निजी बस में बैठकर मृतक दंपति के पास घर पर पहुंचा और बाइक खराब होने का बहाना बनाकर रात में उनके घर रुक गया. आरोपी ने रात में पानी में कुछ जहरीली वस्तु मिलाकर पिलाने के बाद घर में रखे जेवरात और नगदी अपने कब्जे में ले लिए और दोनों की हत्या कर वहां से फरार हो गया. राजसमंद पुलिस कल आरोपी को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड मांग सकती है.
पोते के साले ने की हत्या
राजसमंद एसपी भुवन भूषण ने कहा कि 27 तारीख को एक मुकदमा दर्ज हुआ. खमनोर के बड़ा भाणुजा के पास एक खेत के किनारे एक घर पर बुजुर्ग दंपति भंवर सिंह (75) और 70 वर्षीय उनकी पत्नी का शव बरामद हुआ. खेत के किनारे बने खुद के घर पर दोनों का शव मिलने के बाद जांच शुरू की गई. भुवन भूषण ने कहा कि आरोपी की तलाश के लिए दो टीम बनाई गई. जांच में पता चला कि मृतक के पोते के साले ने इस पूरी घटना को अंजाम दिया. रिश्तेदार होने के कारण उसको लगा कि इनके पास काफी नकदी और जेवर होंगे. गाड़ी में पेट्रोल खत्म होने का बहाना कर रात रुकने की अनुमति मांगी क्योंकि उन्हें मालूम था कि रिश्तेदार होने के कारण उन्हें मना नहीं किया जाएगा. फिर रात को वह डबल मर्डर कर बाहर से ताला लगाकर जेवरात लेकर फरार हो गया.
 
 

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट