भारत में होगा महिलाओं, बच्चों के स्वास्थ्य के लिए चौथा अंतरराष्ट्रीय फोरम

नई दिल्ली,

महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए अगले अंतरराष्ट्रीय फोरम का आयोजन भारत में होगा। 12 और 13 दिसंबर को होने वाले ग्लोबल पार्टनर्स फोरम का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे, जिसमें 100 से ज्यादा देशों के 1200 साझेदार हिस्सा लेंगे।फोरम का लक्ष्य 1000 से अधिक साझेदारों को साझी रणनीति पर एकजुट करना है, ताकि पूरी दुनिया में महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य में अहम सुधार लाया जा सके। फोरम के सह प्रायोजक केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस दौरान दुनिया के कई देशों के प्रमुख, स्वास्थ्य मंत्री और अन्य अहम लोग मौजूद रहेंगे।फोरम का फोकस दुनिया के विभिन्न भागों में महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य में गुणात्मक बदलाव लाने वाले सफल कार्यक्रम के अनुभवों को साझा करने पर रहेगा। फोरम का गठन इस उद्देश्य से किया गया है कि स्वास्थ्य, शिक्षा, जल, सफाई तथा श्रम क्षेत्र यदि सभी मिलकर काम करें तो काफी कुछ हासिल किया जा सकता है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दुनिया भर में महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए भारत की महत्वपूर्ण उपलब्धियों और प्रतिबद्धताओं को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने भारत को यह जिम्मेदारी दी है। फोरम में महिलाओं, बच्चों और किशोरों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए पूरी दुनिया में चलाए जा रहे कार्यक्रमों के 12 केस स्टडी को पेश किया जाएगा। इनमें भारत में बच्चों को विभिन्न रोगों से बचाने के लिए चलाये जा रहे सार्वभौमिक टीकाकरण मिशन इंद्रधनुष है। यह मिशन स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ-साथ अन्य 11 मंत्रालयों के बीच तालमेल से चलाया जा रहा है।भारत दूसरी बार ग्लोबल पार्टनर्स फोरम की मेजबानी करने जा रहा है। इसके पहले 2010 में भारत में दूसरे फोरम का आयोजन किया गया था। इसके अलावा तीसरे फोरम का आयोजन 2014 में जोहंसबर्ग और पहले का 2007 में दार-ए-सलाम तंजानिया में किया गया था।

 


रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट