सिख श्रद्धालुओं के लिए इमरान खान का तोहफा, बिना पासपोर्ट आ सकेंगे करतारपुर

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को बड़ा ऐलान किया है। इमरान खान ने करतारपुर कॉरिडोर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं को बड़ी राहत दी है। इमरान खान ने कहा कि भारत से करतारपुर की तीर्थयात्रा पर आने वाले सिखों को मैंने दो छूट दी है। इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीटर पर दी। उन्होंने लिखा, 'भारत से करतारपुर आने वाले सिखों के लिए दो बातें जरूरी हैं। पहला उन्हें पासपोर्ट की जरूरत नहीं है केवल एक वैध पहचान पत्र चाहिए और दूसरा उन्हें 10 दिन पहले रजिस्ट्रेशन कराने की कोई आवश्यकता नहीं है।'
पाक पीएम ने यह भी कहा कि करतारपुर के उद्घाटन के दिन और गुरू नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व के दिन कोई शुल्क नहीं लगेगा। बता दें, इमरान खान करतारपुर कॉरिडोर का 9 नवंबर को उद्घाटन करेंगे। वहीं भारत में पीएम नरेंद्र मोदी 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन करेंगे। इसके बाद पंजाब के गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक में एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करेंगे। हालांकि, प्रधानमंत्री मोदी करतारपुर साहिब का दौरा करने वाले पहले 'जत्थे' को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे या नहीं, अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। वहीं, करतारपुर साहिब जाने वाले श्रद्धालुओं पर करीब 20 डॉलर (1420 भारतीय रुपये) का शुल्क लगाए जाने से शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने गुरुवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील की कि वे इसे आय का स्रोत न बनाएं। यह शुल्क बहुत ज्यादा है। करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन 9 नवंबर को किया जाएगा।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट