सीएम फडणवीस के फोन का जवाब नहीं दे रहे हैं उद्धव ठाकरे

मुंबई। महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की सरकार बनाने के लिए अंदरखाने कई कोशिशें चल रही है. इस कोशिश में उद्योगपति के अलावा सामाजिक कार्यकर्ता भी लगे हुए हैं. जानकारी के मुताबिक बीजेपी शिवसेना की सरकार बनवाने के लिए दक्षिणपंथी नेता संभाजी भिड़े भी सक्रिय हो गए हैं. वे बीजेपी और शिवसेना के बीच मध्यस्थता कर रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक संभाजी भिड़े शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मिलने मातोश्री आए थे, हालांकि उनकी मुलाकात तो नहीं हो सकी, लेकिन उनका संदेश शिवसेना प्रमुख तक पहुंच गया है. इधर सूत्रों की माने तो उद्धव ठाकरे देवेंद्र फडणवीस के नाम पर किसी भी तरह विचार करने को तेयार नहीं है. रिपोर्ट के मुताबिक पिछले एक सप्ताह में सीएम फडणवीस तीन बार उद्धव ठाकरे से बात करने की कोशिश कर चुके हैं.
मातोश्री आए भिड़े गुरुजी
संभाजी को महाराष्ट्र में भिड़े गुरुजी के नाम से जाना जाता है. वे महाराष्ट्र के बेहद प्रभावशाली शख्स माने जाते हैं. सीएम फडणवीस और उद्धव ठाकरे तो इनका सम्मान करते ही हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संभाजी भिड़े का बहुत आदर करते हैं. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी और शिवसेना के बीच आई खटास को दूर करने के लिए भिड़े गुरुजी खुद मातोश्री आए थे. सूत्र बताते हैं कि जब भिड़े गुरुजी वहां पहुंचे तो उद्धव ठाकरे वहां मौजूद नहीं थे और उनकी मुलाकात नहीं हो पाई. लेकिन भिड़े गुरुजी शिवसेना नेता और एमएलसी अनिल परब से मिले. अनिल परब ने उन्हें भरोसा दिलाया कि वे उद्धव ठाकरे से बात करेंगे और शिवसेना प्रमुख उनसे कब मिल सकते हैं इस बात की जानकारी उन्हें दे देंगे. भिड़े गुरुजी शिव प्रतिष्ठान हिन्दुस्थान नाम का संगठन चलाते हैं.
फडणवीस ने उद्धव को तीन बार किया कॉल
संभाजी भिड़े के सक्रिय होने से पहले देवेंद्र फडणवीस ने खुद ही शिवसेना प्रमुख से संपर्क साधने की कोशिश की. बीजेपी से जुड़े उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि पिछले एक सप्ताह में सीएम देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे को तीन बार फोन किया. लेकिन उद्धव ठाकरे ने समर्थन मांग रहे महाराष्ट्र के सीएम से एक बार भी बात नहीं की.
कभी दूसरे कॉल पर बिजी हैं, तो कभी आराम
देवेंद्र फडणवीस की ओर से पहली बार जब उद्धव ठाकरे से बात करने के लिए फोन किया गया तो कहा गया कि उद्धव ठाकरे दूसरे कॉल पर किसी से बात कर रहे हैं. इस तरह से ये कॉल खत्म हो गया. देवेंद्र फडणवीस ने दूसरी बार कोशिश की और एक बार फिर से शिवसेना प्रमुख को फोन गया. इस बार देवेंद्र फडणवीस को जवाब मिला कि उद्धव ठाकरे आराम कर रहे हैं. महाराष्ट्र सीएम ने उद्धव ठाकरे को तीसरी बार भी कॉल किया तो इस बार कहा गया कि उद्धव सीएम से खुद बात करेंगे. एक सप्ताह के दरम्यान में उद्धव को सीएम फडणवीस की ओर से तीन बार कॉल गया.
सूत्र बताते हैं कि सब कुछ ठीक कराने के लिए उद्धव ठाकरे और देवेंद्र फडणवीस के एक कॉमन बिजनेसमैन फ्रैंड ने मातोश्री से संपर्क करने की कोशिश की. लेकिन उन्हें दो टूक कहा गया कि वे कृपया कर राजनीति की बात न करें.
बीजेपी को शिवसेना के रुख का इंतजार
बीजेपी के सूत्र बताते कि पार्टी ने उद्धव तक पहुंचने के सभी विकल्पों को आजमा कर देख लिया है. अब सरकार गठन के लिए बीजेपी शिवसेना के प्रस्ताव का इंतजार कर रही है. इधर शिवसेना अभी भी कह रही है महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री उन्हीं की पार्टी का होना चाहिए, लेकिन बीजेपी सीएम पद पर किसी तरह का समझौता नहीं करना चाह रही है.

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट