नालासोपारा आरपीएफ ने की ई - टिकट कालाबजारी का भंडाफोड


इलाहाबाद से रेल टिकटों की कालाबजारी करने करने वाला टिकट दलाल नालासोपारा आरपीएफ की गिरफ्त में

  नालासोपारा

  नालासोपारा आरपीएफ ( रेलवे सुरक्षा बल ) ने एक ऐसे टिकट कालाबजारी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है,जो उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद से रेल टिकटों की कालाबजारी करके मुंबई में सप्लाई करता था,हालांकि इस आरोपी को पकड़ने के लिएआरपीएफ की टीम इलाहाबाद भेजी गई थी,लेकिन उसे भनक लग गई और आरपीएफ ने उसे विरार इलाके से धरदबोचा।
  टिकट दलालों की धर पकड़े मुहिम :
 उल्लेखनीय है कि पिछले कई दिनों से रेलवे सुरक्षा बल ( आरपीएफ ) विभाग द्वारा ई - टिकट की कालाबजारी करने वाले टिकट दलालों की धर पकड़े मुहिम छेड़ रखी है। ऐसे में वसई, नालासोपारा,विरार और मलाड आरपीएफ विभाग पूरी तरह से ई - टिकट कालाबजारी करने वाले दलालों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। नतीतजन उक्त आरपीएफ द्वारा टिकट दलालों को पकड़कर रही है साथ ही कालाबजारी पर अंकुश लगाती दिखाई दे रही है।
  एक टीम भेजी गई थी यूपी :
 प्राप्त जानकारी के अनुसार जयसिंह यादव आरोपी उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद से रेल टिकटों की कालाबाजारी करके मुंबई सप्लाई करता था। मुंबई में इनके आरोपी को पकड़ कर जयसिंह यादव को पकड़ने के लिए नालासोपारा आरपीएफ निरीक्षक नाथूराम जाट के मार्गदर्शन में टीम गठित कर  इलाहाबाद उत्तर प्रदेश प्रदेश   भेजी गयी थी।
 विरार से दबोचा गया दलाल :
 परन्तु उक्त आरोपी वहां से सूचना मिलने पर भाग निकला, जिसको सूत्र सूचना के आधार पर 18 नवंबर को विरार के कारगिल नगर,शुभम काम्प्लेक्स,मनवेल पाड़ा,विरार ( पूर्व ) से स्वयं जांच अधिकारी व हेड कांस्टेबल सतीश मांजरेकर ने पकड़कर आरपीएफ कार्यालय नालासोपारा लाये, जहां पर पूछताछ करने पर अपना नाम जयसिंह रामप्रसाद यादव ( 26) निवासी - बस्ती नेदुला थाना सराय ममरेज इलाहाबाद बताया।
अपराध स्वीकार किया,टिकट जप्त :
 आरपीएफ ने बताया कि रेल ई- टिकट की अवैध कालाबाजारी करना स्वीकार किया व पुराने मामले दिनांक 22 अक्टूबर में बतौर आरोपी नम्बर 3 पर शामिल किया गया,उपरोक्त आरोपी के द्वारा कुल 13 नग रेल ई- टिकिट कीमत 23117 जो आरोपी द्वारा निकाल कर बेची गई थी उसे जप्त कर ब्लॉक की गई है। आगे की तहकीकात उप निरीक्षक वी एस राघव कर रहे हैं।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट