घोड़ी से उतरकर धरने पर बैठा दूल्हा

महोबा
 यहां आल्हा चौक पर रविवार शाम एक अजीबोगरीब वाक्या देखने को मिला। बारात लेकर जा रहा एक दूल्हा अचानक घोड़ी से उतरा और धरना दे रहे युवाओं के साथ बैठ गया। दूल्हे ने योगी सरकार से जिले में मेडिकल कॉलेज खोले जाने की मांग की है। यहां सत्यमेव जयते युवा संगठन पिछले 10 दिनों से मांग को लेकर अनशन कर रहा है।
दरअसल, कुरारा गांव से शाम महोबा शहर में बारात आई थी। बैंड बाजे की धुन पर थिरकते हुए बारात द्वारपूजा के लिए वधू पक्ष के दरवाजे जा रही थी। दूल्हा अरविंद घोड़ी पर सवार था। लेकिन, आल्हाचौक पर उसकी नजर धरना दे रहे लोगों पर पड़ी तो वह घोड़ी से उतरकर अनशनकारी युवाओं के बीच पहुंच गया। दूल्हे ने बारातियों से ठहरने की बात कही और खुद धरने पर बैठ गया। अरिवंद ने कहा- बुंदेलखंड काफी पिछड़ा है। यहां स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी है। इसलिए युवाओं की मांग जायज है। योगी सरकार को यहां मेडिकल कॉलेज जरूर खोलना चाहिए। 10 मिनट धरने पर बैठने के लिए दूल्हा बारात लेकर चला गया।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट