आरे पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर फिल्मसिटी में वसूली गैंग सक्रिय

फिल्मसिटी में फिल्म की तर्ज़ पर दिया जाता है वसूली को अंजाम




 गोरेगांव / मुंबई

फिल्मसिटी गोरेगाँव। मुंबई के आरे पुलिस थाना क्षेत्र में इन दिनों हफ्ता वसूली गैंग के खौफ से यहाँ के स्थानीय ठेकेदारों , ब्य्परियों  एवं क्षेत्र हा हाकार मचा हुआ हुआ है . यहाँ के स्थानीय लोगों का कहना है की कुख्यात हफ्ता माफिया राजशेखर अम्बेडकर एवं सेल्वाकुमार तमिलसेल्वन एवं इके भाड़े के गुंडे फिल्मसिटी  में काम करने वाले लोगों में इस कदर दहशत फैला कर रखा है की की इन दिनों कुख्यात माफिया राजशेखर अम्बेडकर एवं सेल्वाकुमार तमिलसेल्वन काफी भी भीत देखे जा सकते

है .

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुशार आरे कलोनी का कुख्यात हफ्ता माफिया फिल्मसिटी के ठेकेदारों से दिन दहाड़े लोगों से हफ्ता मांगते देखे जा सकते है , और जो ब्यपारी राजशेखर अम्बेडकर एवं सेल्वाकुमार तमिलसेल्वन एवं इनके लोगों को इन मफिययों के कहे रकम नहीं देते उन से अक्सर ऐ लोग गाली गलौज मारा मारी तक करने में ये लोग बज नहीं आते है . इससे तो यही लगता है कि आरे कलोनी के इन क्षेत्रों में इन माफियाओं का मनोबल बढ़ा हुआ है .

बता दें की आरे कलोनी की स्थानिक भाजपा के कार्यकर्ता व् गैंग के खिलाफ कई बार आरे  पोलिस को मौखिक व् लिखित शिकायत भी कर चुकी है बाबजूद इसके यहां के स्थानिक पुलिस का अब तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुआ है  जिस से क्षेत्र के ठेकेदारों खौफ का आलम देखने को मिल रहा है |


इस हफ्ता खोर गैंग के खिलाफ पहले  भी एफ आई आर दर्ज है

 आरे कालोनी में वेखौफ़ चल रहे हफ्तावसूली गैंग कुख्यात सरगना राजशेखर अम्बेडकर एवं सेल्वाकुमार तमिलसेल्वन एवं इनके गुंडों के खिलाफ 25 अक्टूबर 2018 को स्थानीय  आरे पुलिस स्टेशन में गुनाह क्रमांक 236/18 में धारा 392, 34, 3 एवं 25, रजिस्टर किया गया है  जिसकी एफ आई आर की कौपी भी हम सलग्न कर रहा  हूँ , एफ आई आर में दर्ज रिपोर्ट के आनुसार फिल्मसिटी के अंदर फेब्रिकेसन के काम का ठेकेदारी करने वाले रजनीकांत मिश्रा द्वारा शिकायत लिखाई गयी है कि यह गैंग फिल्मसिटी में काम करने वाले सभी ठेकेदारों से पैसा वसूलती है और नहीं देने पर इनके  कुख्यात गुंडों को भेजकर चल रहे काम को बंद  करवा दिया जाता है | 

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट