उल्हासनगर सेंट्रल पुलिस स्टेशन के उपनिरीक्षक हर्षद काले को शौर्य पुरस्कार प्रदान


उल्हासनगर. महाराष्ट्र पुलिस में तैनात पुलिस उपनिरीक्षक हर्षद बबन काले को भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा पुरस्कृत शौर्य पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। 18 फरवरी 2020 को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी द्वारा पुरस्कार प्रदान किया गया।  बता दें कि पुलिस उपनिरीक्षक हर्षद बबन काले, 2006 से पुलिस विभाग में शामिल है। 14 वर्ष में उन्हें 4 पुरस्कार और मेडल से नवाजा गया है। अपने संघर्षमय जीवन के साथ जनता को समर्पित जीवन से वे लगातार कामयाबी हासिल कर रहे हैं। वीरता मेडल पुरस्कार उनके इसी कामयाबी का एक भाग है। काले ने बताया कि मैं बहुत गर्व महसूस कर रहा हूं कि मैंने देश से किया हुआ वादा किया। 26/11 के टेररिस्ट अटैक के कड़ी फाइट के बाद उनकी पोस्टिंग गडचिरोली के नक्षलग्रस्त इलाके में की गई थी। नक्षलग्रस्त इलाके में काम करना काफी मुश्किल होने के बावजूद उन्होंने और उनकी टीम ने नक्सलवाद को खत्म करने में बड़ी कामयाबी हासिल की। पुलिस उपनिरीक्षक हर्षद काले को महाराष्ट्र के 60 पुलिस अधिकारियों के बीच एक सम्मान समारोह में मंगलवार 18 फरवरी को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के हाथों राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा पुरस्कृत  शौर्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया। पुलिस उपनिरीक्षक हर्षद काले सहित पूरे उल्हासनगर, ठाणे जिला और महाराष्ट्र राज्य के लिए गर्व की बात है।



रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट