अब शहरी कचरा से बनेगी खा

मुंगेर। जमालपुरवासियों के लिए एक अच्छी खबर है। अब उन्हें अपने शहर में जहां-तहां कूड़ा-कचरा नहीं देखने को मिलेगा। नगर परिषद जमालपुर प्रशासन ने कचरा का समय पर उठाव और इससे निपटने के ठोस प्रबंधन प्रोसेसिंग यूनिट जल्द चालू करेगा। इससे ना सिर्फ शहरवासियों को गंदगी से मुक्ति मिल जाएगी, बल्कि इसी कचरा से प्रशासन ने खाद निर्माण कर बेरोजगारों को रोजगार भी मुहैया कराने में समक्ष होगा। यह प्रोजेक्ट बीते एक साल से लटका हुआ है। अब प्रशासन ने इसे मूर्त रुप देने की कवायत तेज कर दी है। यह जानकारी नगर परिषद जमालपुर के कार्यपालक पदाधिकारी सूर्यानंद सिंह ने दी है। उन्होंने बताया कि ठोस प्रबंधन प्रोसेसिंग यूनिट को लेकर शहर में नप जमालपुर की अपनी जमीन वलीपुर और मुंगरौड़ा का चयन बीते वर्ष कर विभाग को भेज दिया गया था। यहां शहरी गीला कचरा का मशीन के द्वारा खाद निर्माण किया जाना है। जबकि ईस्ट कॉलोनी स्थित आशिकपुर मुंगरौड़ा में नप की जमीन पर डंपिंग यार्ड बनाया गया है। यहां सूखा कचरा का प्रोसेसिंग होगा। कचरा यूनिट निर्माण से क्या क्या होगा लाभ : करीब 10 लाख की लागत से वलीपुर में पीट का निर्माण किया जाना है। इसके बाद करीब 60 लाख रुपये की मशीन लगाया जाएगा। यहां गीला कचरा को मशीन में डाल कर खाद का रुप दिया जाएगा। जो बाजार में सस्ते कीमत पर बेचा जा सकता है। इसके अलावा सड़क किनारे कचरों से प्लास्टिक सहित अन्य सड़े गले सामान चुनने वाले बेसहारों को रोजगार भी मिल जाएगा।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट