ईंट-भट्ठा पर हथियार बंद अपराधियों ने गोलीबारी कर मजदूर को किया अगवा

मधेपुरा। मधेपुरा के चौसा में बेखौफ बदमाशों ने पैना पंचायत भोला बासा में ईंट भट्ठा पर धावा बोलकर काम कर रहे मजदूरों के साथ बुरी तरह मारपीट कर जख्मी कर दिया। बदमाशों ने दहशत फैलाने के लिए हवा में कई राउंड गोलियां भी चलायी। बदमाशों ने गोलीबारी की घटना का विरोध करने वाले एक मजदूर कैलाश पासवान को देर रात ही अपने साथ उठा ले गये। सभी मजदूर रायबरेली उत्तर प्रदेश का रहना वाले बताये जा रहे हैं। जख्मी हालत में सभी मजदूरों को ग्रामीणों की मदद से चौसा पीएचसी में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद आस-पास के इलाकों में दहशत है। बताया गया कि पैना के भोला बासा में सूरज मेहता और मो. मकसूद आलम की पार्टनरशिप में चल रहे ईंट भट्ठा पर करीब चार साल से रायबरेली यूपी उत्तर प्रदेश के लगभग आधा दर्जन से अधिक मजदूर काम करते आ रहे हैं। शुक्रवार की देर रात लगभग साढ़े 10 बजे दो बाइक पर सवार चार नकाबपोश हथियार बंद बदमाश वहां आ धमके और बिना कुछ बताए ही भट्ठा पर काम कर रहे मजदूरों के साथ मारपीट शुरू कर दिया। मारपीट की घटना का विरोध करने पर बदमाशों ने हवा में गोलियां चलानी शुरू कर दी।  मारपीट में रायबरेली उत्तर प्रदेश के रामकुमार लोदी, रामनाथ लोदी और उदयभान पासवान गंभीर रूप से जख्मी हो गये। बदमाशों ने गोलीबारी की घटना का विरोध करने वाले एक मजदूर कैलाश पासवान को देर रात ही अपने साथ उठाकर ले गये। घटना के 15 घंटे बीत जाने के बाद भी मजदूर कैलाश का सुराग नहीं मिल पाया है। अपहृत मजदूर की हत्या होने की आशंका जतायी जा रही है। थानाध्यक्ष महेश कुमार रजक ने कहा कि जख्मी मजदूरों का फर्द बयान लेकर घटना की जांच शुरू कर दी गयी है। जल्द इस घटना में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट