मांगे पूरी नहीं होने पर प्रदर्शन

मधेपुरा। बिहार प्रदेश जीविका कैडर संघ की बैठक में कई मुद्दों पर विचार-विमर्श किया गया। शुक्रवार को जनता हाईस्कूल मैदान पर आयोजित बैठक में दस सूत्री मांगों के समर्थन में 2 मार्च को पटना में विधानसभा घेराव करने सहित विभिन्न बिन्दुओं पर रणनीती तैयार की गयी। बैठक में संघ के प्रदेश महासचिव विवेक कुमार ने कहा कि जीविका महिला सशक्तिकरण के लिए बिहार सरकार की एक परियोजना है जिससे बिहार की हजारों महिलाएं जुड़ी है। यह विभिन्न सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। इसके बावजूद सरकार उनलोगों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही हैं। सरकार अगर 10 सूत्री मांगों को नहीं मानती है तो जीविका कार्यकर्ता और जीविका दीदी सरकार के विरुद्ध गोलबंद होंगी। संघ के प्रखंड अध्यक्ष किशोर कुमार ने कहा कि जीविका सिर्फ कहने को रह गयी है।महिला सशक्तिकरण की परियोजना में यहां सिर्फ लूट खसोट, शोषण और प्रताड़ना चल रहा है। डिंपल कुमारी ने कहा की सरकार सभी संगठनों की मांग मान रही है पर जीविका के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। बैठक में सचिव अभिमन्यु मेहता, कोषाध्यक्ष डिंपल कुमारी, पूनम देवी, एमआरपी उषा कुमारी, सीएफ सरिता कुमारी, एमआरपी प्रीति कुमारी, सोनी कुमारी, फरहद खातून आदि मौजूद रहे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट