बिहार स्टेट बार काउंसिल के उपाध्यक्ष कामेश्वर पांडेय की हत्या, नौकरानी का भी शव मिला

भागलपुर। स्टेट बार काउंसिंल के उपाध्यक्ष और भागलपुर व्यवहार न्यायालय के वरीय अधिवक्ता कामेश्वर पांडेय की संदिग्ध परिस्थियों में हत्या कर दी गई। घटना देर रात की बताई जा रही है। शव उनके कमरे में मिला। 

घटना का पता शुक्रवार की सुबह साढ़े दस बजे तब लगा जब वो कोर्ट जाने के लिए घर से नहीं निकले। प्रारंभिक पुलिस जांच के अनुसार उनकी हत्या देर रात तकिए से मुंह दबाकर की गई है। घर के एक कमरे में रखे पानी के ड्रम से उनकी नौकरानी पचास वर्षीय रेणु का शव मिला है। कयास लगाए जा रहे हैं कि साक्ष्य मिटाने के लिए उनकी नौकरानी की हत्या की गई है।घटना तिलकामांझी थाने के नवाबबाग कॉलोनी की है। जानकारी के मुताबिक वरीय अधिवक्ता कामेश्वर पांडेय अविवाहित थे। और अपने घर में अकेले रहते थे। घर के कामकाज के लिए उन्होंने रेणु को रखा हुआ था। घटनास्थल पर डीआईजी सुजीत कुमार, एससएसीप आशीष भारती और सिटी एसपी एसके सरोज समेत कई पुलिस अधिकारी पहुंच गए हैं। मौके पर फोरेंसिक विशेषज्ञ की टीम भी पहुंची हुई है। घटना को लेकर वकीलों और स्थानीय लोगों में चर्चाओं का बाजार गर्म है कयास लगाया जा रहा है निजी या संपत्ति विवाद को लेकर किसी जानकार ने ही घटना को अंजाम दिया है। वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय कोर्ट में हड़कंप मच गया। वकील घटनास्थल पर जुटने लगे हैं। वकीलों में पुलिस प्रशासन के खिलाफ आक्रोश पनपने लगा है। वकीलों ने आपातकालीन बैठक बुलाकर घटना के विरोध में न्यायालय में कामकाज ठप करते हुए तत्काल हड़ताल की घोषणा कर दी है। वकीलों ने पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर हत्यारे को जल्द ही गिरफ्तार नहीं किया गया तो होली के बाद आगे की कार्रवाई पर विचार किया जाएगा।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट