भारत में बढ़े कोरोना के मरीज


  लोगों ने कैंसल कराए ट्रेन टिकट, फ्लाइट्स भी प्रभावित

  मुंबई। भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों ने फ्लाइट और ट्रेन से की जाने वाली घरेलू यात्राओं को बुरी तरह से प्रभावित किया है। जहां हवाई जहाज महज कुछ यात्रियों के साथ उड़ान भर रहे हैं वहीं, लोग ट्रेन के टिकट भी कैंसल करा रहे हैं। लोग हवाई यात्रा करने से बच रहे हैं, जिसकी वजह से किराए में भी कटौती दर्ज की गई है। अगले 24 घंटे में जिन फ्लाइट्स को प्रस्थान करना है उनके किराए में भी गिरावट देखी जा रही है।  मंगलवार को मुंबई-दिल्ली की बुधवार को यात्रा के लिए रिटर्न टिकट की शुरूआत 5 हजार रुपये से थी। औसतन देखा जाए तो एक तरह का किराया महज 2500 रुपये था। एक ट्रैवल एजेंट ने बताया कि वह दो हफ्तों से सिर्फ टिकट ही कैंसल कर रहे हैं। उनका कहना है, आॅफ सीजन में भी मुंबई-दिल्ली की फ्लाइट्स की भारी मांग होती है। लास्ट मिनट में जितने दाम अब गिर रहे हैं, उतनी तो गिरावट कभी नहीं दर्ज की गई।

... और एयर टिकट की मांग में कमी

पिछले हफ्ते मुंबई-दिल्ली की आवाजाही की टिकट 24 घंटे पूर्व महज 8 हजार रुपये में मिल रही थीं। एजेंट का कहना है, ह्यएक सप्ताह के भीतर कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी हुई है, जिसको देखते हुए लगता है कि फ्लाइट्स की टिकटों की मांग में कमी आई है।  अब गौर करते हैं मुंबई-कोच्चि रूट की। यहां पर हमेशा पर्यटकों की भीड़ जुटी रहती है, जिसकी वजह से यहां फ्लाइट्स की डिमांड भी खूब होती है। हालांकि, इस हफ्ते आप आसानी से कोच्चि जा सकते हैं और वहां से महज 5000 रुपये में वापस सकते हैं। एजेंट ने कहा, ह्यलास्ट मिनट पर कोच्चि से एक तरफ की फ्लाइट की कीमत सामान्य तौर पर 6 हजार से 7 हजार रुपये तक होती है।

 ट्रेन से यात्रा में भी बच रहे लोग

आनलाइनट ट्रेन टिकट बुकिंग इंजन कन्फर्म टिकट  के को-फाउंडर दिनेश कोठा कहते हैं, हमने गौर किया है कि लोगों ने पिछले हफ्ते से बड़ी संख्या में ट्रेन की टिकट कैंसल कराई है। इसकी वजह कोरोना वायरस है। दिल्ली की तरफ जाने वाली ज्यादातर ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। पिछले महीने की तुलना में इस बार 25 फीसदी ज्यादा कैंसलेशन के मामले हैं।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट