बॉम्बे हाईकोर्ट के बार एसोसिएशन का सुझाव, जरूरी होने पर ही अदालत बुलाएं जाए पक्षकार

    मुंबई। कोरोनावायरस के प्रकोप को देखते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट के वकीलों के संगठन बॉम्बे बार एसोसिएशन (बीबीए) ने सजगता दिखाई है। बीबीए ने हाईकोर्ट प्रशासन को पत्र लिखकर कोरोना के नियंत्रण के लिए कई सुझाव दिए हैं। पत्र में कहा गया हैकोर्ट के प्रवेश द्वार पर उपकरण के माध्यम से अदालत आने वाले सभी लोगों के तापमान की जांच की जाए। यदि तापमान में गड़बड़ी पायी जाती है, तो जांच को लेकर आगे जरूरी कदम उठाया जाए। इसके साथ ही पक्षकारों को जरूरी होने की स्थिति में ही अदालत में आने के लिए कहा जाए, अन्यथा पक्षकारों को अदालत आने से रोका जाए।  

 जल्द ही निर्णय लेगा कोर्ट

बीबीए के इस पत्र के बारे में हाईकोर्ट प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि हम बीबीए की ओर से दिए गए सुझावों पर विचार करने की प्रक्रिया में हैं। जल्द ही इस बारे में उचित निर्णय लिया जाएगा। बीबीए ने अपने वकील सदस्यों से आग्रह किया है कि जरूरी होने पर ही वे अपने मुवक्किल को कोर्ट में बुलाए। बीबीए के परिसर में बैठक करने से बचे। इसके साथ ही सभी सदस्य कोरोना को लेकर हर तरह की जरूरी सावधानी सतर्कता बरतें।

 महाराष्ट्र में कोरोना पीड़ितों की संख्या 12 हुई

 राज्य में अब तक कोरोना के मरीजों की संख्या 12 हो चुकी है। ताजा मामला पुणे में सामने आया है। यहां अब तक 9 लोग कोरोना से पीड़ित हैं। इसके अलावा मुंबई में दो और नागपुर में एक केस सामने आया है। देश में अब तक 75 लोग कोरोना से पीड़ित हैं।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट