मुजफ्फरपुर शेल्टर होम सीबीआई आज पेश करेगी चार्जशीट


पटना, बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में सीबीआई को शुक्रवार को चार्जशीट दायर करनी है. सीबीआई को चार्जशीट दायर करने के लिए सात दिसंबर तक की मोहलत मिली थी. इस संबंध में हालांकि किसी तरह की आधिकारिक जानकारी नहीं आई है, लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि सीबीआई अधिकारी चार्जशीट तैयार कर चुके हैं. शेल्टर होम केस के पांच आरोपियों की जमानत की अर्जी पर शुक्रवार को विशेष पॉक्सो कोर्ट में सुनवाई होनी है. सूत्रों के मुताबिक जमानत के लिए होने वाली सुनवाई के दौरान सीबीआई चार्जशीट को कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत करेगी.मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 30 से अधिक नाबालिग लड़कियों के साथ कथित रूप से बलात्कार और यौन उत्पीड़न किया गया था. यह मामला सबसे पहले तब सामने आया था जब टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस (टीआईएसएस) ने बिहार के सामाजिक कल्याण विभाग को एक आडिट रिपोर्ट सौंपी. इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद हड़कंप मच गया. शेल्टर होम में नाबालिग लड़कियों के साथ हुई इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया.

मामले में कई रसूखदारों का नाम सामने आया तो बिहार सरकार पर भी सवाल उठे.मुजफ्फरनगर शेल्टर होम केस में अबतक 19 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. दस की गिरफ्तारी पुलिस ने जबकि 9 आरोपियों को सीबीआई ने गिरफ्तार किया. गिरफ्तार लोगों में मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर, बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) के सदस्य विकास कुमार, निलंबित बाल संरक्षण पदाधिकारी (सीपीओ) रवि रोशन, बाल संरक्षण विभाग के तत्कालीन सहायक निदेशक रोजी रानी सहित बालिका गृह की सात महिला कर्मचारी व अन्य शामिल हैं.मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने से पहले 26 जुलाई को पुलिस ने दस आरोपियों के खिलाफ विशेष पॉक्सो कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी. जिन आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की उनमें मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर, सीपीओ रवि रोशन ,सीडब्ल्यूसी सदस्य विकास कुमार, बालिका गृह की सात महिला कर्मचारी शामिल हैं. बता दें कि आरोपी बनाए गए सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष दिलीप वर्मा को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है.

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट