कोरोनाः बक्सर जिले में मुखिया व वार्ड सदस्य रखेंगे संदिग्धों पर नजर

बक्सर। कोरोना वायरस को लेकर जिला हाई अलर्ट पर है। डीएम अमन समीर ने टास्क फोर्स के गठन के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग को सभी पंचायतों में ग्रामसभा की बैठक को तत्काल स्थगित करते हुए मुखिया व वार्ड सदस्यों को विदेश से आनेवाले लोगों पर नजर रखने और किसी भी तरह के संदिग्ध मरीज का मामला सामने आने पर स्वास्थ्य विभाग को जानकारी देने का निर्देश दिया है कि इसमें सभी पंचायती राज सदस्य, एएनएम, आंगनबाड़ी सेविका, हेल्थ केयर वर्कर को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करने के भी निर्देश दिए गए हैं। डीएम समीर ने बताया कि बक्सर जिले में कोरोना वायरस के मामलों की अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है क संदिग्ध मामले भी नहीं पाए गए हैं। इसलिए अधिक दहशत में आने की जरूरत नहीं है। बस एहतियात के लिए ये सभी कदम उठाए गए हैं। कोरोना से बचाव के लिए दवा से अधिक बचाव ही जरूरी है। लेकिन, अगल-बगल के राज्यों व जिलों में संदिग्ध मिलने के बाद राज्य सरकार सहित जिले में भी हाई अलर्ट जारी किया गया है क कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए व स्थिति की गंभीरता पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा की है क वहीं, सबसे पहले राज्य सरकार की ओर से 25 जनवरी को नोवेल कोरोना वायरस पर एडवाइजरी भेजी गयी थी क इसके साथ ही जिले के अस्पतालों में स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिड्यूर(एसओपी)भी उपलब्ध कराया गया है क जबकि, पर्सनल प्रोटेक्शन इक्वीपमेंट्स किट्स, एन-95 मास्क, इन्फ्रारेड थर्मामीटर भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। कोरोना को लेकर सभी आंगनबाड़ी केन्द्र बंद : समाज कल्याण विभाग के सहायक निदेशक सह प्रभारी पदाधिकारी स्थापना के निर्देश के आलोक में रघुवंश कुमार सिंह ने प्रखंड के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों को अगले आदेश तक अनिश्चितकालीन बंद रखने का निर्देश दिया है। 

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट