महिलाओं को बीच सड़क पर बनाने पड़े शराब के पैग

बरेली। शराब के शौकीनों ने सड़क पर मयखाना बना दिया। चाट बताशों के ठेलों पर शराब बिकने लगी। महिलाएं पैग बनाने लगीं। जिसकी वजह से सड़कें जाम हो गईं। बारादरी पुलिस ने सेटेलाइट से लेकर डोहरा मोड़ तक शराबियों के खिलाफ अभियान चलाया। इसमें एक छात्र और दो महिलाओं समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया गया। पीलीभीत रोड की एक माडल शॉप का काउंटर भी सड़क पर रखा था। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया। सभी आरोपियों के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। रविवार रात इंस्पेक्टर बारादरी नरेश त्यागी के नेतृत्व में पुलिस टीम ने सड़क पर जाम छलकाने वालों के खिलाफ अभियान चलाया। पुलिस टीम डोहरा मोड़ के पास पहुंची तो कुछ ठेलों पर बियर व व्हिस्की के साथ सिगरेट पी जा रही थी। पुलिस ने डोहरा चौराहा निवासी पुष्पा देवी व सम्राट अशोक नगर निवासी सुखरानी गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया। दोनों महिलाएं शराब पिलाने का ठेला लगाती हैं। 

कैंट के सैदपुर खजुरिया निवासी समीर ने बताया कि वह डोहरा मोड़ पर चिकन का काउंटर लगाता है। प्रेमनगर में कोहाड़ापीर के रहने वाले विशाल शर्मा ने बताया कि डोहरा चौराहे पर वह कैंटीन चलाते हैं। जगतपुर गौटिया निवासी पप्पू भारती ने बताया कि डोहरा मोड़ निकट फातिमा अस्पताल के पास वह खड़े होकर ठेले पर शराब पी रहा था। तलाशी लेने पर आरोपियों के पास से नमकीन के पैकेट, प्लास्टिक के गिलास और मीट बरामद हुआ। 

सेटेलाइट चौराहे के पास लगा शराबियों का जमघट

सेटेलाइट चौराहे के पास गुटखे व सिगरेट का ठेला लगाने वाले तीन लोगों को हिरासत में लिया गया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि नवादा शेखान निवासी विपिन गुप्ता, कटरा चांद खा निवासी आशीष गुप्ता और कैंट के नकटिया निवासी गोलू है। सभी ठेला लगाकर लोगों को शराब पिलाते हैं। पुलिस ने सभी आरोपियों के ठेले, काउंटर जब्त कर लिये। पुलिस ने सोमवार को चालान कर दिया। 

शराब की दुकानों में चल रहीं अवैध कैंटीन

देशी शराब की दुकानों में अवैध तरीके से कैंटीन चलाई जा रही है। 80 फीसदी कैंटीन चलाने वालों के पास फूड का लाइसेंस नहीं है। शराब कारोबारियों से मिलीभगत करके मॉडल शॉप के बराबर में और दुकानों के पास कैंटीन चल रही है। इसमें नकली पानी और मिलावटी सामान बेचा जा रहा है। 

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट