रूस में कोरोना वायरस के संक्रमण से पहली मौत

मास्को। रूस में कोरोना वायरस के संक्रमण से एक बुजुर्ग महिला की मौत होने के साथ बृहस्पतिवार को पहली मौत दर्ज की गई। वह मास्को के एक अस्पताल में भर्ती थी। स्वास्थ्य अधिकारियों ने यह कहा। एक बयान में अधिकारी के हवाले से कहा गया है, 79 वर्षीय महिला के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। उसे 13 मार्च को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उसे मधुमेह तथा हृदय संबंधी रोग भी था। जिन लोगों के वह संपर्क में आई थी उन्हें पृथक कर दिया गया है। संक्रामक रोगों के लिए मास्को अस्पताल संख्या-2 की प्रमुख चिकित्सक स्वेतलाना करासनोवा के हवाले से बयान में कहा गया है कि बुजुर्ग रोगी लंबे समय से कई रोगों से ग्रसित थी। मास्को के मेयर सर्गेई सोबयानीन ने ट्विटर पर कहा कि दुर्भाग्य से कोरोना वायरस के संक्रमण से हमें पहली क्षति (एक महिला के मौत के रूप में) हुई है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक रूस में कोरोना वायरस के अब तक 147 मामले सामने आए हैं। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस हफ्ते कहा था कि कोरोना वायरस से खतरे की स्थिति देश में आमतौर पर नियंत्रण में है। प्रधानमंत्री मिखाइल मिशुस्तीन ने बृहस्पतिवार को एक सरकारी बैठक के दौरान लोगों से यथा संभव अन्य लोगों के संपर्क में नहीं आने को कहा। कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तांडव मचा रखा है। चीन से फैले इस कोरोना वायरस का अब यूरोप में घातक असर दिख रहा है और मौत का आंकड़ा तेज गति से बढ़ रहा है।  बुधवार को इटली में कोरोना वायरस ने कहर ढा दिया और एक दिन में करीब पांच सौ लोगों की जिंदगियां छीन ली। समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, इटली में कोरोना वायरस से एक दिन में 475 लोगों की मौत हो गई है, जो कि किसी देश में कोरोना से एक दिन में हुई सबसे अधिक मौत है। यहां ध्यान देने वाली बात है कि इससे पहले एक एक दिन में रिकॉर्ड मौतें इटली में ही हुई थी। बीते दिनों कोरोना वायरस से एक दिन में 368 लोगों ने जान गंवा दी थी।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट