अब लोग ले सकेंगे पौष्टिकता से भरपूर बैंगनी गोभी का स्वाद

भागलपुर। भागलपुर के लोग भी अब रंगीन गोभी (बैंगनी गोभी) का स्वाद चखेंगे। यहां के किसानों ने पहली बार इसका उत्पादन किया है। साधारण गोभी की तुलना में बैंगनी रंग की गोभी पौष्टिकता से भरपूर है। अभी तक यहां के किसान उजला फूलगोभी, पत्ता गोभी, ब्रोकली का ही उत्पादन करते थे। पटना के बाद संभवत: भागलपुर में ही बैंगनी गोभी की खेती हो रही है। लोदीपुर के किसान सुकदेव मंडल ने बताया कि भागलपुर में पहली बार बैंगनी रंग की गोभी की खेती की गयी। विदेशी बीज होने के कारण अभी इसका बड़े पैमाने में उत्पादन होना बाकी है। वह अपने खेत में 200 बीज डाले थे जिसमें 150 गोभी हुई है। धीरे-धीरे बाजार में भी इसकी बिक्री की जा रही है। कई लोगों के बीच इस गोभी के रंग को लेकर कौतूहल की स्थिति है। कुछ लोग आश्चर्य व्यक्त करते हैं तो कुछ फोटो खींचकर घर ले जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि साधारण गोभी की तुलना में इसकी कीमत डेढ़ गुना अधिक है।

पौष्टिकता से भरपूर है बैंगनी रंग की गोभी

बैंगनी रंग की गोभी काफी पौष्टिक होता है। बिहार कृषि विश्वविद्यालय, सबौर के उद्यान (सब्जी पुष्प) विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. रंधीर कुमार ने बताया कि एंथोसायनिन की वजह से फूलगोभी रंगीन हो जाता है। यह शरीर के विकार को दूर करता है। बैंगनी रंग की फूलगोभी का स्वाद भी बेहतर है। इसमें विटामिन , विटामिन सी, मैग्नीशियम, पोटाशियम, प्रोटीन आदि प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है। जो स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हैं वह रंगीन फूलगोभी खाना काफी पसंद करते हैं। उन्होंने बताया कि पटना के बाद भागलपुर में इसकी खेती की गयी है।

जागरूकता से साथ तेजी से बढ़ेगा उत्पादन

विदेश बीज होने के कारण इस साल कुछ बीज ही किसानों को मिल पाया था। कई किसान बीज की कीमत अधिक होने के कारण इसे खरीद नहीं पाये थे। विभागाध्यक्ष ने बताया कि अगले साल से बीज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होने की संभावना है। फिलहाल रंगीन फूलगोभी की खेती बाजार में कुछ साल लग जायेंगे। जैसे-जैसे किसान जागरूक होंगे वैसे ही इसकी खेती बढ़ेगी। रंगीन फूलगोभी हमेशा स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होगा।


रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट