खनन घोटाले में IAS चंद्रकला के घर CBI की छापेमारी, पूर्व सीएम अखिलेश से भी हो सकती है पूछताछ


लखनऊ: उत्तर प्रदेश के हमीरपुर अवैध खनन घोटाले में चर्चित आईएएस बी चंद्रकला के घर सीबीआई ने छापेमारी की है और उनके खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया गया है. सीबीआई का कहना है कि इस मामले में उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की भूमिका की भी जांच होगी. गौरतलब है कि साल 2012 से 2013 के बीच अखिलेश यादव खनन मंत्री भी थे.


सीबीआई का कहना है कि इस दौरान जो भी नेता मंत्री रहे हैं, उनकी भुमिका की भी जांच की जाएगी. बता दें कि बी चंद्रकला जब हमीरपुर की डीएम थी, उसी समय के अवैध खनन मामले को लेकर उनके घर पर छापेमारी की गई है. सीबीआई ने रेत के अवैध खनन से जुड़े मामले में शनिवार को उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 12 जगहों पर छापे मारे. अधिकारियों ने बताया कि आईएएस अधिकारी बी. चन्द्रकला सहित वरिष्ठ अधिकारियों के आवासों पर इस संबंध में छापे मारे गए. चन्द्रकला भ्रष्टाचार के खिलाफ अपने अभियानों के लिए सोशल मीडिया पर बेहद लोकप्रिय हैं. सीबीआई ने इस मामले में बीएसपी नेता सत्यदेव दीक्षित और एसपी एमएलसी रमेश मिश्रा के घर भी छापेमारी की है. अधिकारियों ने बताया कि छापे उत्तर प्रदेश के जालौन, हमीरपुर, लखनऊ समेत कई जिलों के साथ ही दिल्ली में भी मारे गए. इलाहाबाद हाईकोर्ट के निर्देश पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) मामले की जांच कर रही है. आईएस आधिकारी बी चंद्रकला पर आरोप है कि हमीरपुर और बुलंदशहर में जिलाधिकारी के पद पर तैनाती के दौरान उन्होंने अवैध तरीके से अपने चहेतों को खनन पट्टे दिए थे. अवैध बालू खनन मामले की जांच के लिए इलाहाबाद हाई कोर्ट के निर्देश पर सीबीआई ने यह माम

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट