लोकायुक्त-लोकपाल कानून के लिए अन्ना का 30 से अनशन का ऐलान


रालेगण सिद्धी. समाज सेवी अन्ना हजारे ने लोकपाल लोकायुक्त कानून को केंद्र व राज्यों में लागू करने के लिए देशभर में आंदोलन करने का एलान किया है. इसके लिए 24 जनवरी को रालेगण सिद्धी में बैठक होगी. बैठक में हर राज्यों के कार्यकर्ताओं के साथ आंदोलन की रूपरेखा तय की जाएगी. अन्ना ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया है कि वह अपने-अपने राज्यों में आंदोलन करें. महाराष्ट्र में लोकायुक्त कानून लागू हो, इसके लिए वह स्वयं 30 जनवरी को रालेगण सिद्धि में अनशन पर बैठेंगे. अन्ना ने यह जानकारी अपने गांव से जारी लिखित बयान में दी है. उन्होंने कहा है कि देश में बढ़ते भ्रष्टाचार पर रोक लगे. चार वर्ष से ज्यादा वक्त गुजरने के बाद भी मोदी सरकार लोकपाल नियुक्त करने के सवाल को टालती आई है. इतना ही नहीं मोदी सरकार ने लोकपाल कानून को कमजोर करने के लिए लोकायुक्त कानून की धारा 44 संशोधन लाकर 2016 में कमजोर बिल को तीन दिन के भीतर लोकसभा और राज्यसभा से पास करा लिया. इससे सरकार की इच्छाशक्ति साफ जाहिर है कि जब सरकार अपने हितों के लिए कमजोर बिल को तीन दिन में पास करा सकती है तो लोकायुक्त लोकपाल को लागू न करना उनकी मंशा को बया कर रहा है. इसी तरह राज्य भी 2013 में लोकपाल कानून बनने के बाद आज 2018 तक पांच वर्ष गुजर जाने बाद भी लोकायुक्त कानून नहीं बना रहे हैं. इसलिए अब फैसला लिया गया है कि कार्यकर्ता अपने-अपने राज्यों में आंदोलन करके दबाव बनाएंगे.

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट