दरिंदा दोस्त ने दोस्त की हत्या कर शव के 200 टुकड़े किए और टायलेट में बहाया


विरार क्षेत्र में एक व्यक्ति द्वारा अपने दोस्त की हत्या कर उसके शरीर के 200 टुकड़े कर टॉयलेट में बहाने का मामला सामने आया है। इस घटना का खुलासा मंगलवार को तब हुआ जब सात मंजिला इमारत का ड्रेनेज सिस्टम हड्‌डी और मांस के कारण जाम हो गया। छानबीन के बाद पुलिस ने घटना के आरोपी पिंटू शर्मा (40) को गिरफ्तार कर लिया है। वह सांताक्रुज इलाके का रहना वाला है।
स्टॉक एक्सचेंज में कार्यरत पिंटू ने जिस शख्स की हत्या की, उसका नाम गणेश कोल्हाडकर (58), निवासी मीरा रोड है। वह प्रींटिंग प्रेस चलाता था। पुलिस ने बताया कि कोल्हाडकर की शादी होने वाली थी। इसके लिए उसने शर्मा से 1 लाख रुपये उधार लिए थे। इसमें उसने 40 हजार रुपए चुका दिए थे।
 
15 जनवरी को शर्मा ने छठी मंजिल स्थित अपने घर पर कोल्हाडकर को बुलाया। शर्मा ने कोल्हाडकर से कहा कि वह बहुत देरी से शादी कर रहा है, ऐसे में उसकी पत्नी के विवाहेतर संबंध हो सकते हैं। इसके बाद लेन-देन की किसी बात पर दोनों के बीच कहासुनी हुई और पिंटू ने कोल्हाडकर को दीवार पर धक्का मार दिया।
 


हेक्सा ब्लेड का इस्तेमाल किया
धक्का इतना तेज था कि कोल्हाडकर की वहीं मौत हो गई। इसके बाद पिंटू हत्या को छिपाने में जुट गया। वह शव के टुकड़े करने के लिए हेक्सा ब्लेड लाया और शरीर के 200 टुकड़े किए। धीरे-धीरे टॉयलेट में बहाता रहा, जबकि शरीर के बड़े टुकड़ों को घर जाते वक्त ट्रेन से फेंक दिया।


लंबी जांच के बाद मिली सफलता
मांस और हड्‌डी की वजह से ड्रेनेज जाम हो गया। सफाई वाले ने ड्रेनेज साफ करना शुरू किया तो उसमें से शव के टुकड़े निकले। इसके बाद यह मामला सामने आया। पुलिस की लंबी जांच और पूछताछ के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस को अब तक मृतक का सिर नहीं मिला है।
 

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट