मनपा की लचर परिवहन सेवा के विरुद्ध उत्तनवासियों में उपजा आक्रोश


मनपा आयुक्त से मिला शिवसेना नगरसेवकों का शिष्टमंडल

मीरा-भायंदर। डोंगरी-उत्तन-चौक से गोराई-मनोरी के रहिवासियों को पिछले काफी समय से मनपा की लचर परिवहन सेवा की समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। नागरिकों की समस्याओं को मद्देनजर रखते हुए स्थानीय शिवसेना के नगरसेवकों के नेतृत्व में शिष्टमंडल ने मनपा आयुक्त बालाजी खतगांवकर से मुलाकात कर उनसे इन क्षेत्रों के लिए मनपा की परिवहन सेवा के साथ-साथ बेस्ट तथा एसटी बस सेवा के संचालन की भी माँग की। शिष्टमंडल में नगरसेवक एलायस बांड्या, नगरसेविका शर्मिला गंडोली, हेलन जार्जी समेत गोराई चर्च के फादर एडवर्ड जसिंटो, प्रवासी संगठन के लियो परेरा, रोशन डिसूजा, दयानंद पाटिल, पाल डिसूजा, आयडा मांडवीधर समेत नागरिकों का समावेश था। नगरसेविका शर्मिला गंडोली ने मनपा आयुक्त को ज्ञापन सौंपा। शिष्टमंडल ने मनपा की लचर परिवहन सेवा के प्रति आक्रोश जताते हुए कहा कि डोंगरी-उत्तन-चौक से गोराई-मनोरी तक के यात्रियों को परिवहन सेवा की दुर्दशा से जूझना पड़ रहा है। उन्होंने मनपा की परिवहन सेवा के सुधार के साथ ही इस क्षेत्र में पर्यायी तौर पर बेस्ट तथा एसटी बस सेवा भी शुरू किए जाने की माँग की। नगरसेविका शर्मिला ने कहा कि क्षेत्र के लोगों के आवागमन के लिए मनपा की परिवहन सेवा ही एकमात्र पर्याय है, उपर से बसों की कम फेरियां, आए दिन बसों का खराब होना, अनियमित समय-सारिणी के चलते लोगों को जान जोखिम में डालकर इनमें मजबूरी में सफर करना पड़ता है। यात्रियों के लिए सफर के दौरान दुर्घटना बीमा न होना, ऑटो रिक्शा चालकों की मनमानी लूट, बस स्टापों पर रिक्शा वालों के अतिक्रमण आदि अनेक मुद्दों पर शिष्टमंडल ने आक्रोश जताया। नगरसेवक एलायस बांड्या ने कहा कि वर्तमान में एमबीएमटी की स्थिति मेरे भरोसे मत रहो वाली हो गई है, लिहाजा नागरिकों के लिए बेस्ट तथा एसटी जैसी पर्यायी सुविधा मनपा प्रशासन मुहैया कराए। उन्होंने मनमाने तरीके से हड़ताल पर चले जाने वाले परिवहन के ठेका कर्मियों के विरुद्ध कार्रवाई की भी माँग की। शिष्टमंडल की सभी माँगों को गंभीरतापूर्वक लेते हुए मनपा आयुक्त ने एक से डेढ़ महीने में परिवहन सेवा को सुव्यवस्थित करने का भरोसा दिलाया। आयुक्त ने यात्रियों के लिए दुर्घटना बीमा शुरू करने, रिक्शा चालकों के विरुद्ध कार्रवाई करने, बेस्ट, एसटी की बसें शुरू करने के लिए पत्र व्यवहार करने का आश्वासन दिया। उन्होंने बताया कि शासन ने नई बसों को मंजूरी दी है, जिसके लिए शीघ्र ही एनसीसी पैटर्न पर ठेकेदार की नियुक्ति की जाएगी, जिससे परिवहन सेवा में सुधार होगा। आयुक्त बालाजी खतगांवकर ने कहा कि वे अब हर महीने यात्रियों के शिष्टमंडल से मुलाकात कर परिवहन सेवा की समीक्षा करेंगे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट